गुजरात विधानसभा चुनाव: पहले चरण में भारी मतदान, यानि ६८ प्रतिशत डाला वोट

गुजरात इलेक्शन २०१७

Share Now

गुजरात विधानसभा के पहले चरण के मतदान में ६८ फीसदी मतदान हुआ। १८२ सदस्यों वाली विधानसभा के लिए हो रहे चुनाव के प्रथम चरण में शनिवार को ८९ सीटों के लिए मतदान हुआ। इस राज्य में पिछली बार विधानसभा चुनाव में ७०.७५ प्रतिशत मतदान हुआ था। इस राज्य के वरिष्ठ उप निर्वाचन अधिकारी उन्मेश सिन्हा ने बताया कि राज्य में पहले चरण की ८९ सीटों के लिए ६८ प्रतिशत मतदान हुआ।

शनिवार को जिन प्रमुख उम्मीदवारों का भाग्य ईवीएम में बंद हुआ उसमें राजकोट पश्चिम सीट से मुख्यमंत्री विजय रुपाणी, मांडवी से कांग्रेस के शक्ति सिंह गोहिल और अमरेली से परेश धनानी मुख्य हैं। भाजपा और कांग्रेस के बीच इस लड़ाई में इस विधानसभा चुनाव को कांग्रेस अध्यक्ष का पद संभालने जा रहे राहुल गांधी के लिए भी एक टेस्ट के रूप में देखा जा रहा है।

दूसरे चरण में शेष ९३ सीटों के लिए १४ दिसंबर को मतदान होगा। राज्य में मतों की गिनती १८ दिसंबर को होगी।

पीएम मोदी ने वोटिंग के लिए जनता को धन्यवाद दिया

वोटिंग समाप्त होने पर पीएम मोदी ने गुजरात की जनता को धन्यवाद दिया। पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में कहा कि आज रिकॉर्ड संख्या में मतदान करने के लिए गुजरात के भाइयों और बहनों का आभार, धन्यवाद गुजरात। मैं देख रहा हूं हर गुजराती के प्यार और सहयोग से भाजपा ऐतिहासिक जीत की तरफ बढ़ रही है।

मतदान केंद्रों पर सुबह से ही लोगों की कतारें लगी

इस मतदान में शनिवार को वोट डालने वालों में क्रिकेटर, दूल्हा-दुल्हन और वयोवृद्ध लोग भी शामिल थे। इनके अलावा काफी संख्या में ऐसे नौजवान भी मतदान केंद्रों पर पहुंचे, जिन्होंने पहली बार किसी चुनाव में वोट डाला। राजकोट (पश्चिम) से चुनाव लड़ रहे मुख्यमंत्री विजय रुपाणी शुरुआती घंटों में वोट डालने वालों में शामिल थे।

क्रिकेटर चेतेश्वर पुजारा भी अपने पिता अरविंद पुजारा के साथ वोट डालने आए थे। राजकोट के एक मतदान केंद्र पर वोट डालने के बाद चेतेश्वर ने सभी मतदाताओं से अपना वोट डालने की अपील की। राजकोट जिले के गोंदल स्थित एक मतदान केंद्र में वोट डालने वाले एक  मजदूर दंपति ने कहा कि उन्हें विस्वास है कि उन्होंने जिस पार्टी को वोट डाला है उसी को पड़ा है।

क्योंकि वहां ईवीएम के साथ वीवीपीएटी मशीन लगाई गई थी जिस पर उसका चुनाव चिह्न देख रहे थे। सोमीबेन दंतनी ने कहा कि हमने जिस पार्टी को वोट दिया उस पार्टी का चिह्न वीवीपीएटी में देखा।

शादी के जोड़े में भी डाला वोट

शादी के परिधान में ​भरुच में एक दूल्हा-दुल्हन वोट डालने के लिए एक मतदान केंद्र पर आए। साथ ही बारातियों ने भी भावनगर में अपना वोट डाला। दूल्हा-दुल्हन ने बताया कि वे विवाह स्थल के लिए रवाना होने से पहले अपना वोट डालना चाहते थे। दूल्हे भावेश राणा ने बताया कि मैं विकास के पक्ष में वोट डालने के लिए आया हूं। हमने शादी में जाने से पहले अपना वोट डालने का फैसला किया है।

स्वामीनारायण संप्रदाय के कई पुजारियों ने गोंदल के एक मतदान केंद्र पर अपने वोट डाले।

ब्लूटूथ से ईवीएम में छेड़छाड़ की शिकायत गलत

विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अर्जुन सिंह पोरबंदर से चुनाव लड़ रहे हैं, उन्होंने मोढ़वाडिया ने मेमनवाड़ा समेत मुस्लिम बहुल तीन पोलिंग बूथों पर ईवीएम से छेड़छाड़ की शिकायत की। उनका दावा था कि कुछ ईवीएम ब्लूटूथ जैसे डिवाइस से कनेक्ट पाईं गईं। मुख्य निर्वाचन अधिकारी बीबी स्वैन ने शनिवार शाम बताया कि शिकायत मिलने पर मामले की जांच कराई गई।

स्वैन ने कहा कि आरोप जांच के दौरान गलत पाए गए। शिकायतकर्ता के मोबाइल से जो डिवाइस कनेक्ट बताया गया था, वह कोई इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) नहीं बल्कि एक पोलिंग एजेंट का मोबाइल था।

जामनगर के गांव में चुनाव का बहिष्कार

इस राज्य में मोरबी के गजाड़ी गांव में स्थानीय लोगों के बहिष्कार के कारण एक भी वोट नहीं पड़ा। स्थानीय लोगों ने पानी की किल्लत के कारण चुनाव का बहिष्कार किया। अधिकारियों ने बताया कि गजाड़ी में १००० मतदाता हैं। पहले चरण के मतदान में किसी ने भी वोट नहीं डाला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *