भारत ने ठुकराया कश्मीर के लिए चीन का ऑफर, कहा आपसी मामला

India-rejected-china-offer

Share Now

भारत ने ठुकराया कश्मीर के लिए चीन का ऑफर, कहा आपसी मामला

भारत ने ठुकराया कश्मीर के लिए चीन का ऑफर, कहा आपसी मामला। गुरुवार १३ जुलाई को कश्मीर मुद्दे को लेकर भारत ने चीन के प्रस्ताव को ठुकरा दिया। भारत ने साफ कहा कि कश्मीर मुद्दा भारत और पाकिस्तान दो देशों का आपसी मामला है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने गुरुवार को कहा कि कश्मीर को लेकर भारत का स्टैंड एकदम साफ है।

कश्मीर समेत सभी मुद्दों पर बात चल रही है। साथ ही बागले ने भारत-चीन के बीच सीमा पर बढ़ रही तनातनी पर कहा कि हंबर्ग में चीन के राष्ट्रपति और पीएम मोदी के बीच कई मुद्दों पर बात हुई और दोनों तरफ से डिप्लोमैटिक रास्ते खुले हैं।

कश्मीर मसले में डिप्लोमैटिक रोल निभाना चाहता है चीन

ज्ञात हो कि चीन ने बुधवार को कहा कि वह भारत, पाकिस्तान के बीच रिश्ते सुधारने के लिए “डिप्लोमैटिक रोल” निभाने का इच्छुक है। चीन ने नियंत्रण रेखा पर बढ़ते तनाव के बाद कहा कि कश्मीर के मुद्दे ने दुनिया का ध्यान अपनी तरफ खींचा हुआ है।

जेंग शुआंग जो कि चीनी विदेश विभाग के प्रवक्ता हैं उन्होंने भारत, पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव पर चिंता व्यक्त की है। शुआंग ने कहा कि कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पास बढ़ता तनाव न सिर्फ दोनों देशों के बीच शांति और स्थिरता को नुकसान पहुंचाएगा बल्कि इस क्षेत्र की शांति के लिए नुकसानदायक सिद्ध होगा। उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि दोनों देश शांति और स्थिरता के अनुकूल कदम उठाएंगे और तनाव बढ़ाने से बचेंगे।

भारत और पाकिस्तान के बीच संबंधों में सुधार के लिए चीन डिप्लोमैटिक रोल निभाने को इच्छुक है। इससे पहले उन्होंने कहा कि भारत पाकिस्तान दक्षिण एशिया के महत्वपूर्ण देश हैं लेकिन कश्मीर की स्थिति ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय का ध्यान अपनी तरफ खींचा है।

भारत पहले से ही कहता आ रहा है कि कश्मीर एक द्विपक्षीय मुद्दा है और इसमें किसी अन्य के हस्तक्षेप की कोई गुंजाइश ही नहीं है। चीन की तरफ से यह बयान भारत के साथ सिक्किम सेक्टर के दोकलम में भारत-चीन में गतिरोध के बीच आया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *