मुफ्त मिलेगा फास्टैग १ दिसंबर तक, केंद्र सरकार ने किया एलान

nitin-gadkari

Share Now

देश के सभी टोल एक दिसंबर से कैशलेस होने जा रहे हैं। बिना फास्टैग के आप टोल पार नहीं कर रहे हैं तो ऐसे में अगर अभी तक आपने फास्टैग नहीं खरीदा है तो यह खबर आपके लिए ही है। केंद्र सरकार ने तय किया है कि फास्टैग को बढ़ावा देने के लिए आगामी १ दिसंबर तक इसे मुफ्त में उपलब्ध कराया जायेगा।

इसकी घोषणा केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बृहस्पतिवार को की है। गडकरी ने बताया कि अगले एक दिसंबर से देश भर के राष्ट्रीय राजमार्गों पर स्थित टोल प्लाजा पर नकदी में टोल चुकाने की सुविधा खत्म की जा रही है। वहां सिर्फ फास्टैग से ही टोल चुकाया जा सकेगा।

इसके लिए एनएचएआई ने अपनी पूरी तैयारी कर ली है। इस समय एनएचएआई के नेटवर्क में कुल ५३७ टोल प्लाजा है। इनमें से १७ को छोड़ कर शेष टोल प्लाजा के लेन आगामी ३० नवंबर तक फास्टैग से लैस हो जाएंगे। शेष टोल प्लाजा अभी बन ही रहे हैं इसलिए वहां इलेक्ट्रानिक तरीके से टोल वसूली की सुविधा फिलहाल नहीं लग पाई है।

एनएचएआई के प्वाइंट ऑफ सेल (पीओएस) पर ही मुफ्त मिलेगा

उन्होंने ये भी बताया कि इस समय फास्टैग बेचते समय १५० रुपये का सिक्योरिटी डिपोजिट लिया जाता है। मगर इसे बढ़ावा देने के लिए एनएचएआई इसे नि:शुल्क देगी। मतलब इसे लेने वालों को १५० रुपये नहीं चुकाने होंगे। हालांकि मुफ्त में फास्टैग सिर्फ एनएचएआई के प्वाइंट ऑफ सेल -पीओएस- पर ही मिलेगा। बैंक से यदि इसे खरीदते हैं तो ग्राहकों को पूरा शुल्क चुकाना होगा।

अगले महीने से लगेगा दोगुना शुल्क

सरकार ने तय किया है कि अगले महीने से उन वाहन मालिकों को इलेक्ट्रॉनिक टोल लेन में घुसने पर दोगुना टोल चुकाना होगा, जिनकी गाड़ी पर फास्टैग नहीं लगा होगा। उस समय सभी टोल प्लाजा के सभी लेन इलेक्ट्रॉनिक होंगे, इसलिए फास्टैग अनिवार्य होगा।

अब गाड़ी पर लगे फास्टैग से खरीद सकेंगे पेट्रोल-डीजल, पार्किंग का भी कर सकेंगे भुगतान

वाहन चालकों के लिए सरकार ने एक अच्छी खबर दी है। अब पार्किंग, पेट्रोल या डीजल खरीदने के लिए आपको कैश, डेबिट या क्रेडिट कार्ड नहीं निकालना पड़ेगा। बल्कि आपकी गाड़ी पर लगा फास्टैग ही यह काम करेगा। सरकार की कोशिश है कि वन नेशन वन फास्टैग योजना के तहत फास्टैग का इस्तेमाल देश की सभी हाईवे और एक्सप्रेस-वे पर किया जा सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *