अयोध्या विवाद पर फैसला आज, जानें अयोध्या-यूपी का हाल

अयोध्या सुप्रीम कोर्ट का फैसला

Share Now

आज अयोध्या में ७० साल तक चली कानूनी लड़ाई, ४० दिन तक लगातार मैराथन सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट का बहुप्रतीक्षित फैसला आ गया है। राजनीतिक रूप से संवेदनशील राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की पीठ ने सर्वसम्मति यानी ५-० से ऐतिहासिक फैसला सुनाया।

सुप्रीम कोर्ट ने निर्मोही अखाड़े के दावे को खारिज करते हुए रामलला विराजमान और सुन्नी वक्फ बोर्ड को ही पक्षकार माना। टॉप कोर्ट ने इलाहाबाद हाई कोर्ट द्वारा विवादित जमीन को तीन पक्षों में बांटने के फैसले को अतार्किक करार दिया। आखिर में सुप्रीम कोर्ट ने रामलला विराजमान के पक्ष में फैसला सुनाया।

कोर्ट ने आगे कहा कि सुन्नी वक्फ बोर्ड को कहीं और 5 एकड़ की जमीन दी जाए। इसके साथ ही कोर्ट ने केंद्र सरकार को आदेश दिया है कि वह मंदिर निर्माण के लिए 3 महीने में ट्रस्ट बनाए। इस ट्रस्ट में निर्मोही अखाड़े को भी प्रतिनिधित्व देने का आदेश हुआ है।

आज अयोध्या में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला सुनाया जा रहा है। इससे पहले अयोध्या में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। वहीं, आम जन-जीवन सामान्य ही चल रहा है।

  • अयोध्या में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आज
  • फैसले से पहले अयोध्या में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था, प्रशासन अलर्ट
  • तैनात है भारी संख्या में सुरक्षाबल, जनजीवन सामान्य, आ-जा रहे हैं लोग
  • यूपी, राजस्थान, कर्नाटक, दिल्ली के कई इलाकों में धारा 144 लागू

अयोध्या

राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट आज फैसला आने वाला है। यूं तो पूरे देश की निगाहें इस फैसले पर टिकी हुई हैं लेकिन सबसे ज्यादा सरगर्मी अगर कहीं देखने को मिल रही है तो वह है अयोध्या में। इस वक्त उत्तर प्रदेश के इस शहर में प्रशासन सांसें थामे खड़ा है। वहीं, फैसला पढ़ते हुए चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा है कि बाबरी मस्जिद को मीर बाकी ने बनवाया था। उन्होंने कहा कि कोर्ट के लिए आस्था के मामले में दखल देना सही नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *