भारतीय वैज्ञानिकों ने बनाई प्याज के छिलके से बिजली

डेमो फोटो

Share Now

हमारी दुनिया के कई देश कृषि के कचरे से बिजली की पैदावार कर रहे हैं। इस स्थिति में भारतीय भी इससे कहां पीछे रहने वालों में से हैं। प्याज के छिलके से बिजली पैदा करके देश का गौरव बढाया है। आईआईटी खड़गपुर के विज्ञानियों ने प्याज के छिलके से बिजली बनाने वाली एक सस्ती डिवाइस का तैयार किया है। यह डिवाइस शरीर के मूवमेंट से ग्रीन बिजली उत्पन्न कर सकती है।

इस बनने वाली बिजली का इस्तेमाल पेसमेकर, स्मार्ट गोलियां और पहनने योग्य इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरणों में किया जा सकेगा। पश्चिम बंगाल में स्थित आईआईटी खड़गपुर के प्रोफेसर भानू भूषण खातुआ ने कहा कि गैर-विषाक्त, बायोडिग्रेडेबल और बायोकॉम्पसिबेटेड डिवाइस प्याज के छिलकों से उपयुक्त पाइजेइलेक्ट्रिक गुणों का फायदा उठाते हैं।

इन्हीं पाइजेइलेक्ट्रिक सामग्री में रोजमर्रा की यांत्रिक ऊर्जा को बिजली में बदलने की क्षमता होती है। वैज्ञानिकों ने अपने इस नए अविष्कार में सस्ते दर पर बिजली उत्पादन करने में सफलता पाई है। अब एक आम आदमी इस डिवाइस की मदद से प्याज के छिलकों से काफी किफायती दामों में बिजली का उत्पादन कर सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *